Wednesday, January 7, 2009

जो टूट के भी टूट नहीं पाता है !

जो टूट के भी टूट नहीं पाता है,
जो काटो यूँ लगे और ही बढ़ जाता है ,
जो पूछे कोई शम्मा की रात कैसी थी?
परवाना क्यूँ हँसते हुए जल जाता है....

हर बात में एक याद तेरी आती है ,
हर गीत पर एक तार सा चल जाता है ,
वो प्यार भरा तार तेरी ही शहर से होगा,
सपना बने दिल में यूँ ही पल जाता है ......

मालूम है मुझको, तेरी हालत भी तो मेरी सी है ,
क्या सोच ख़ुद ब ख़ुद , ख्याल ही टल जाता है ,
तेरा भला हो, दे दुआ, अब दूर से ही दिल,
फिर आज के ढाँचे में ये ढल जाता है ......

- - अर्चना

Archanapanda.com | archana on YouTube | kavita | kahani | all blogs

9 comments:

chopal said...

aachi kavita hai. http://merichopal.blogspot.com

vinay said...

bakai thodi der ki kasak rehti hai,phir insan vartman main aa jata hai.

Amit said...

bahut acchi kavita hai......

makrand said...

मालूम है मुझको, तेरी हालत भी तो मेरी सी है ,
क्या सोच ख़ुद ब ख़ुद , ख्याल ही टल जाता है ,
तेरा भला हो, दे दुआ, अब दूर से ही दिल,
फिर आज के ढाँचे में ये ढल जाता है ......

bahut sunder kavita

ktheLeo said...

मैं हूँ उनके साथ खड़ी जो सीधी रखते अपनी रीढ़!
Bahut hi accha vichar hai!Main isiko aisey kahata hoon:

"Aqhlaaq Kaddawar hai mera, kad kam hua tau kya?
Pairon pe tau khada hoon main ghutno ke bal nahi!"

"अर्श" said...

bahot khub likha hai aapne ,,,, achhi kavita padhane ko mili bahot bahot badhai aapko .........

Deuce Ace said...

Very Interesting poems!
This is truly the spirit of unstoppable people. Wo log jinka ehsaas gehra hai, jinkey zazbat auron ko bhi scochney par majboor kar detey hain, aur sabse bari baat jo pardes mein honey par bhi apney watan se is khoobsurat dhang se judey hain. :)

You may find the following interesting. Visit

http://www.kandmool.com

http://bindiblog.wordpress.com/

Deuce Ace said...

Actually read the About page of Toe Rings to Wings

http://bindiblog.wordpress.com/about/

Rahul said...

bahut accha likhti hai app


http://bharatclick.com